October 6, 2022 +91-44-24618817, 24616948

Hindi week observed at ICAR-CIBA during 14 – 20th September, 2022

Featured Image
Night mode

ICAR-CIBA celebrated Hindi Week during 14- 20th September 2022 to promote the usage of Hindi as an official language. During the week, different competitions such as Hindi noting, Hindi drafting, singing of poem and song, extempore, vocabulary, quiz competitions were organized wherein the scientists, staff and research scholars of CIBA enthusiastically participated. Besides the above, another competition under the “Hindi Incentive Scheme” was also held to promote the usage of Hindi in official work. A sum total of 123 participants took part in these competitions.

The valedictory function was organized on 20th September, 2022 wherein Dr. Sujeet Kumar, Senior Scientist & Officer-In-Charge, Hindi Cell presented the achievement of Hindi Cell during the year 2021-22. He gladly informed that ICAR-CIBA won the prestigious Ganesh Shankar Vidhyarthi Award from the ICAR for CIBA Hindi magazine ‘Jal Tarang’, and Parliamentary Committee on Rajbhasha also appreciated the efforts of the Hindi Cell.

Shri Navin Kumar Jha, Chief Administrative Officer and member of Hindi Cell presented a talk on “Rajbhasha Hindi: Status and Direction” and stressed the importance of Hindi, Regional language and English in the present dynamic world.

Dr. K.P. Jithendran, Director, ICAR-CIBA released the Hindi version of CIBA Annual Report-2021 and distributed the prizes to the winners of various competitions. In his presidential address, Director remarked the linguistic diversity of India and importance of Hindi in communicating across the Nation.

Dr. M. Shashi Shekhar, Dr. Akshya Panigrahi and Dr. J. Raymond Jani Angel members of Hindi Cell coordinated the programmes. The program ended with the vote of thanks by Shri. R.K. Babu, Senior Finance and Accounts Officer & Member, Hindi cell.

 

भाकृअनुपसीबा में 14-20 सितंबर 2022 के दौरान हिंदी सप्ताह मनाया गया 

सीबा ने हिंदी के आधिकारिक भाषा के रूप में उपयोग को बढ़ावा देने के लिए 14 – 20 सितंबर 2022 के दौरान हिंदी सप्ताह मनाया। सप्ताह के दौरान, विभिन्न प्रतियोगिताओं जैसे हिंदी टिप्पण, हिंदी प्रारूपण, कविता और गीत गायन, आशु भाषण, शब्दावली, प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं, जिनमें संस्थान के वैज्ञानिक, अधिकारी, कर्मचारि और शोधार्थियों ने भाग लिया। सरकारी कार्यों में हिंदी के प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए “हिंदी प्रोत्साहन योजना” प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। इन प्रतियोगिताओं में कुल 123 प्रतिभागियों ने भाग लिया। समापन समारोह 20 सितंबर, 2022 को आयोजित किया गया था।

अपने उद्घाटन भाषण में, डॉ सुजीत कुमार, वरिष्ठ वैज्ञानिक और प्रभारी अधिकारी-हिंदी प्रकोष्ठ ने वर्ष 2021-22 के दौरान हिंदी सेल की उपलब्धि प्रस्तुत की। उन्होंने अपार हर्ष के साथ सूचित किया कि भाकृअनुप-सीबा ने हिंदी पत्रिका जल तरंग के लिए भाकृअनुप से प्रतिष्ठित गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार जीता । इसके साथ ही साथ राजभाषा की संसदीय समिति ने भी संस्थान के हिंदी सम्बन्धी कार्यो के अवलोकन के दौरान भूरी भूरी सराहना की।

मुख्य प्रशासनिक अधिकारी एवं हिंदी प्रकोष्ठ के सदस्य श्री नवीन कुमार झा ने “राजभाषा हिंदी: दशा और दिशा” पर एक व्याख्यान प्रस्तुत किया और वर्तमान सन्दर्भ में हिंदी, क्षेत्रीय भाषा और अंग्रेजी के महत्व पर बल दिया। उन्होंने बताया की हिंदी सप्ताह समारोह के दौरान हिंदी कार्यों में १५% से अधिक प्रगति देखने को मिली है।

डॉ. के.पी. जितेंद्रन, निदेशक आईसीएआर-सीबा ने वार्षिक प्रतिवेदन 2021 का हिंदी संस्करण जारी किया और विभिन्न हिंदी प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कार वितरित किया। अपनी अध्यक्षीय टिप्पणी में, निदेशक ने भारत की भाषाई विविधता और हिंदी के महत्व पर टिप्पणी की।

कार्यक्रम का संचालन डॉ. एम. शशि शेखर, डॉ. अक्षय पाणिग्रही और डॉ. जे. रेमंड जानी एंजेल ने किया। कार्यक्रम का समापन श्री आर.के. बाबू, वरिष्ठ वित्त एवं लेखा अधिकारी एवं सदस्य हिंदी प्रकोष्ठ के धन्यबाद ज्ञापन से हुआ ।